Pradhanmantri Fasal Bima Yojana | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना | देश के किसानों को मिलेगा इसका लाभ।

Pradhanmantri fasal Bima Yojana l प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना – किसानों के लिए खेती करना काफी हद तक मौसम पर निर्भर करता है। मौसम अच्छा हो तो फसल अच्छी होती है, मौसम बेकार हो तो फसल बेकार हो जाती है। यानी खेती में कुछ भी निश्चित नहीं है।

इन्ही समस्याओं को दूर करने के लिए भारत सरकार fasal bima yojana लाई है l ताकि अगर प्राकृतिक आपदा से किसानों की फसल खराब होती है, तो किसान को आर्थिक जोखिम से बचाया जा सके। इस वजह से ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को लाया गया है।

Table of Contents

Pradhanmantri fasal bima Yojana in hindi

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मे किसानों को प्राकृतिक आपदा के कारण फसल खराब हो जाने पर बीमा दिया जाएगा। Pradhanmantri fasal bima Yojana का संचालन भारतीय कृषि बीमा कंपनी द्वारा किया जाता है। इस योजना में शामिल होने के लिए पहले किसानों को अपनी फसल का बीमा कराना होगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मे किसानों को खरीफ फसल का 2% तथा रवि फसल का 1.5 प्रतिशत बीमा राशि देनी होती है। जिसके आधार पर ही उनकी फसल की सुरक्षा सुनिश्चित होती है। अगर सूखा पड़ने, ओले पड़ना आदि की वजह से किसानों की फसल खराब होती है। तो उनको उचित मुआवजा बीमा कंपनी द्वारा दे दिया जाता है।

Pradhan mantri fasal Bima Yojana
Pradhanmantri fasal Bima Yojana

Pradhanmantri Fasal Bima Yojana overview

योजनाPradhanmantri fasal bima yojana
योजना की शुरुआत13 जनवरी 2016
विभाग का नामMinistry of Agriculture and farmer welfare
उद्देश्यदेश के किसानों को उनकी फसल खराब होने पर उचित मुआवजा दिलाना
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार की योजना
योजना मे आवेदनऑनलाइन

Pradhanmantri fasal Bima Yojana की पात्रता क्या है?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मे शामिल होने के लिए कुछ पात्रता निर्धारित की गई है। जिसके बारे में जानकारी होना आवेदन करने से पहले जरूरी है।

  •  सभी किसान इस योजना मे भाग ले सकते हैं।
  •  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अनुसूचित क्षेत्रों में अधिसूचित फसल उगाने वाले बटाईदार एवं किशत्कार किसान भी योजना का लाभ ले सकते हैं।
  •  लेकिन बीमा राशि किसानों को तभी दी जाएगी जब वह अपनी फसलों का बीमा कराएंगे।
  •  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को कुछ अनिवार्य डाक्यूमेंट्स की भी आवश्यकता होगी।

Pradhanmantri fasal Bima Yojana मे बीमा किन किन फसलों का किया जा सकता है?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मे किसान सभी फूड क्रॉप्स, आयल सीड्स, एनुअल कमर्शियल या एनुअल हॉर्टिकल्चर क्रॉप्स इत्यादि फसलों का बीमा करा सकते हैं। इसके अलावा किसान सभी रवि तथा खरीफ फसलों को भी इस योजना में शामिल करवा सकते हैं।

क्योंकि फसल मौसम के अनुसार होती है। रवि फसल के समय किसानों को 1.5% बीमा राशि कंपनियों को देनी होगी। जबकि खरीफ फसलों में 2% बीमा राशि बीमा कंपनियों को देनी होगी। जिसके बाद ही उनकी फसल सुरक्षित हो सकेगी।

Pradhanmantri fasal Bima Yojana का उद्देश्य क्या है?

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अनुसार अगर किसानों की फसल प्राकृतिक आपदाओं, कीटो और रोगों और किसी अन्य तरह से अगर फसल खराब होती है तो, उनको व्यापक बीमा कवर दिया जाता है।
  • Pradhanmantri fasal bima yojana के जरिए किसानों की आय सुनिश्चित हो जाएगी। क्योंकि किसानों को फसल खराब होने का डर नहीं रहेगा।
  • इस योजना से किसानों द्वारा फसल की निरंतरता बनाई जा सकेगी। क्योंकि अगर किसानों की फसल बर्बाद होती है, तो उनको मुआवजा दिया जाएगा।
  • जिससे किसान आगे भी फसल बोने के लिए प्रेरित होंगे। नहीं तो पहले फसल बर्बाद होने के बाद, किसान आर्थिक रूप से काफी समस्या में आ जाते थे। आगे फिर से फसल बोने के लिए उनके पास पैसे नहीं होते थे।
  • इस योजना के द्वारा किसानों को दूसरी फसल उगाने के लिए भी प्रेरित किया जाएगा। क्योंकि किसान डर की वजह से ही दूसरी फसल नहीं उगाते हैं। कभी फसल खराब हो जाए तो फिर क्या होगा।

ये भी पढिये

PM Ayushman Bharat Yojana 2022 | आयुष्मान भारत योजना जानें आवेदन प्रक्रिया, मापदंड और पात्रता

Pradhanmantri fasal bima Yojana मे बीमा किस्त क्या होगी?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मे अलग-अलग फसलों के लिए अलग-अलग बीमा राशि तय की गई है। किसानों को फसल खराब होने पर मुआवजा तभी दिया जाएगा जब उनके द्वारा उनकी फसल का बीमा के आधार पर सुरक्षित करवाया जाएगा। आइए बीमा किस्त के संबंध में विस्तार से जानकारी को समझते हैं।

  •  किसानों को प्रमुख रूप से खरीफ फसलों के लिए 2% तथा रवि फसलों के लिए 1.5% प्रीमियम राशि के रूप में बीमा कंपनियों को देना होगा।
  •  इसके अलावा वाणिजिक तथा बागवानी फसलों के लिए वार्षिक रूप से फसल बीमा के रूप में 5% राशि बीमा कंपनियों को देनी होगी।
  •  हालांकि किसानों द्वारा दी जाने वाली प्रीमियम राशि बहुत कम है। लेकिन अगर किसानों को उनकी फसल का नुकसान हो जाता है, तो कुछ राशि तो बीमा कंपनियां देंगी तथा बाकी का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा।

PMFBY मे किन किन तकनीकों का प्रयोग किया जाएगा?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अनुसार विभिन्न तकनीकों का प्रयोग किसानों की फसल खराब होने पर आकलन हेतु किया जाएगा। जिसमें फसल बीमा ऐप, नवीनतम तकनीकी उपकरण तथा PMFBY पोर्टल शामिल है। आइए उनके बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते हैं।

  •  फसल बीमा ऐप के जरिए किसान आसानी से अपनी एप्लीकेशन दर्ज करवा सकता है। क्योंकि अगर मान लो किसान की फसल खराब हो जाती है, तो उसको केवल अपने स्मार्टफोन में फसल बीमा ऐप को डाउनलोड करना है।
  • जिसके बाद घटना के 72 घंटे के अंदर फसल की रिपोर्टिंग की जा सकती है। जिसमें किसानों को कहीं नहीं जाना है। केवल स्मार्टफोन से ही इस सुविधा का इस्तेमाल करना है।
  •  फसल का नुकसान होने पर बीमा कंपनियों के अधिकारी विभिन्न नवीनतम तकनीकी उपकरणों का इस्तेमाल करते हैं। जिनमें सैटेलाइट इमेजेस, रिमोट सेंसिंग तकनीक, ड्रोन, कृत्रिम बुद्धिमता और मशीन लर्निंग का प्रयोग किया जाता है। इन तकनीकों से किसानों की फसल का पूरा आकलन कर लिया जाता है।
  •  इसके अलावा सरकार द्वारा भूमि रिकॉर्ड के एकीकरण के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पोर्टल की शुरूआत की गई है। जिससे सरकार किसानों की भूमि का रिकॉर्ड भी अपने पास रख सके।

PMFBY मे रबी सीजन के लिए प्रीमियम की राशि क्या है?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022 मे रबी सीजन के लिए प्रीमियम की राशि तय की गई है। आइए टेबल के माध्यम से प्रति हेक्टेयर प्रीमियम की राशि को जानते हैं।

फसल का नामप्रति हेक्टेयर प्रीमियम की राशि
गेहूं11000.90 रूपये
सरसों681.09 रूपये
जौ661.62 रूपये
चने505.95 रूपये
सूरजमुखी661.62 रूपये

 प्रति हेक्टेयर बीमित राशि

फसल का नामप्रति हेक्टेयर बीमित राशि
गेहूं67460 रूपये
सरसो45405 रूपये
जौ44108 रूपये
सूरजमुखी44108 रूपये
चने33730 रूपये

Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022 के लिए बजट क्या तय किया गया है?

हालांकि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत 13 जनवरी 2016 को की गई थी। लेकिन तब से लेकर अब तक  सरकार द्वारा इसके लिए हर साल बजट पास किया जाता है। 2022 में इस योजना के तहत 16,000 करोड़ों रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

जबकि 2021 में यह बजट वर्तमान बजट से लगभग 305 करोड रुपए कम था। यानी 2022 में इस योजना को और ज्यादा किसानों तक पहुंचाने के लिए बजट की राशि को बढ़ाया गया है। इसका मुख्य लक्ष्य न केवल किसानों की आय को दोगुना करना है बल्कि कृषि क्षेत्र के विकास को भी प्रोत्साहित करना है।

ये भी पढिये

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY) : राशन कार्ड धारक महिलाओं को मिलेंगे 1600 रूपये।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022 मे हर साल 5.5 करोड़ लोग करते हैं आवेदन।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Pradhanmantri fasal Bima Yojana मे लगभग हर साल 5.5 करोड़ किसान आवेदन करते हैं। जिससे पता चलता है कि इस योजना की कितनी ज्यादा उपयोगिता है। इसी वजह से हर साल इस योजना में बजट को बढ़ाया जाता है। ताकि  फसल बीमा योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा किसानों को दिया जा सके।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा इसी योजना के 5 साल बीत जाने के बाद, सफल होने पर, fasal Bima Yojana को दोबारा से लॉन्च किया गया है। ताकि इसमें आने वाली सभी कमियों को दूर किया जा सके। जैसे कि फसल नुकसान होने पर जो राशि होगी वह सीधा किसान के बैंक अकाउंट में आ जाएगी। किसानों को बीमा की राशि प्राप्त करने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

PM fasal Bima Yojana से संबंधित कुछ अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां।

  • पीएम फसल बीमा योजना के द्वारा पिछले 4 वर्षों में 15000 करोड रुपए का प्रीमियम जमा हुआ है। जोकि अपने आप में ऐतिहासिक है।
  •  इस प्रीमियम राशि के बदले में किसानों को लगभग 70000 करोड रुपए तक इंश्योरेंस का क्लेम हुआ है।
  •  पीएम फसल बीमा योजना के द्वारा किसानों को उनकी चुकाई गई फसल पर सुरक्षा दी जाती है। ताकि वे बिना चिंता के अपनी फसल उगा सकें।
  •  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को भारत के सभी राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में लागू किया गया है।
  •  फसल बीमा योजना के तहत क्लेम का रेशों 88.3 है। जोकि बहुत अच्छा माना जाता है।
  •  केंद्र सरकार द्वारा हर साल फसल योजना का आकलन किया जाता है। ताकि योजना में होने वाली कमियों को सही किया जा सके। जिसे योजना का लाभ किसानों को मिल सके।
  •  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के द्वारा बीमा कंपनियों को 0.5% प्रीमियम की जो राशि प्राप्त होती है, उसका उपयोग राशि इंफॉर्मेशन, तथा अन्य जानकारियों को जुटाने के लिए किया जाता है।
  •  फसल बीमा योजना मे किसानों के लिए सबसे अच्छी बात उनका मनोबल अच्छा होना है। क्योंकि पहले किसान अन्य फसल इसलिए नहीं उगाते थे, उनको डर था कहीं फसल चौपट ना हो जाए। इसलिए अब किसान अपनी आय बढ़ाने के लिए वाणिज्य खेती भी करने लगे हैं। इस योजना ने उनका जोखिम कम कर दिया है।

ये भी पढिये

महिलाओं को ₹6000 की आर्थिक धनराशि की सहायता , प्रधान मंत्री मातृत्व वंदना योजना

 Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022 के लाभ तथा विशेषताएं क्या है?

 आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फसल बीमा योजना के बहुत सारे लाभ हैं। जिसके बारे में विस्तार से जानकारी नीचे दी गई है।

  •  पीएम फसल बीमा योजना 2022 के जरिए किसानों को फसल का नुकसान होने पर तुरंत उसका मुआवजा दिया जाएगा।
  •  फसल बीमा योजना में अगर किसानों की फसल बीमा मे लिखित प्राकृतिक आपदाओं से खराब हुई है, तो किसानों को उनकी फसलों का आकलन करने पर तुरंत मुआवजा राशि दी जाएगी। यह एक प्रकार से केंद्र सरकार द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता देने की योजना है।
  • अगर किसानों की फसल मानवीय रूप से खराब हुई है तो, उनको इस फसल का कोई भी मुआवजा नहीं दिया जाएगा।

ये भी पढिये

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना क्या है? श्रमिकों को 60 वर्ष के बाद ₹3000 प्रति माह पेंशन

Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट जाना होगा।

  • Official Website के होम पेज पर सबसे पहले आपको अपना अकाउंट बनाना होगा। अकाउंट बनाने के लिए registration पर क्लिक करना होगा।
Pm Fasal Yojana Online Apply
  •  इसमें आप से मांगी गई सारी जानकारियां भरनी होंगी। जिसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार आप अपना अकाउंट बना पाएंगे।
  •  फसल बीमा योजना का अकाउंट बनाने के बाद अब आपको अपनी लॉगिन डिटेल से लॉगइन करना होगा। लॉग इन करने के बाद आपको फसल बीमा योजना के लिए आवेदन फॉर्म को अच्छी तरह भरना होगा।
  •  जब आपके द्वारा application form मे सारी जानकारियां भर दी जाएंगी, तब आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार आप Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन आसानी से कर पाएंगे।

Pradhanmantri fasal Bima Yojana I फसल बीमा योजना FAQs

Q1- fasal Bima Yojana में नाम कैसे चेक करें?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अपना नाम चेक करने के लिए आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर अपनी लॉगिन डिटेल से लॉगिन करना होगा। जिसके बाद आप अपने आवेदन की स्थिति को देख सकते हैं।

Q2- फसल बीमा में कितना पैसा मिलता है?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अलग-अलग फसल के लिए अलग-अलग पैसा मिलता है। जिसके बारे में ज्यादा जानकारी आपको पोस्ट में दी गई है।

Q3- फसल बीमा योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

फसल बीमा योजना का लाभ लेने के लिए पहले किसानों को अपनी फसल का बीमा कराना होगा। जिसके बाद अगर किसानों की फसल को नुकसान होता है तो उस आधार पर उनको फसल बीमा का लाभ दिया जाएगा।

Q4- फसल बीमा कब मिलेगा 2022?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को ही दिया जाएगा।

Q5- फसल बीमा की वेबसाइट क्या है?

फसल बीमा योजना की ऑफिशियल वेबसाइट https://pmfby.gov.in/ है।

Q6- फसल बीमा के लिए कौन पात्र है?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए पात्रता की सारी जानकारी आपको पोस्ट में दी गई है।

Q7- मुआवजा लिस्ट कैसे देखें?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में मुआवजा लिस्ट देखने के लिए आपको सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। जहां पर आपको अपनी एप्लीकेशन स्टेटस को देखना होगा। एप्लीकेशन स्टेटस पर क्लिक करके आपको मांगी गई जानकारी को भरना होगा। जिसके बाद आप अपना नाम लिस्ट में चेक कर सकते हैं।

Q8- फसल बीमा कैसे लें?

फसल बीमा का लाभ लेने के लिए किसानों को सबसे पहले फसल बीमा कराना होगा। उसके बाद ही उनको फसल बीमा का लाभ मिलेगा।





Leave a Reply

Your email address will not be published.