ईंधन सखी योजना: ऑनलाइन आवेदन, SHG महिलाओं को HP गैस देगी ₹1020 तक कमीशन !

ईंधन सखी योजना ऑनलाइन आवेदन | Eandhan Sakhi Yojana Apply Online | Benefits | Eligibility | Uttarakhand Eandhan Sakhi Yojana Online Registration

अभी Check करें ब्रेकिंग न्यूज़ (Breaking News) !!

उत्तराखंड सरकार ने पहाड़ी क्षेत्रों के लोगों के लिए एक नया कार्यक्रम शुरू किया है। जिसे ईंधन सखी योजना नाम दिया गया है। इस नई योजना के तहत सरकार ने महिलाओं को आमदनी कराने और योजना को आगे बढ़ाने के लिए सरकार एक मिनी गैस एजेंसी बनाएगी, जिससे यह दूर- दराज़ की पहाड़ियों में रिफिलिंग की समस्या को हल करेगा ताकि लोगों को अब रिफिलिंग के लिए ज्यादा भटकना न पड़े। आइए इसको विस्तार से समझें..

Join Our WhatsApp Group Join Now
Join Our Telegram Group Join Now
उत्तराखंड ईंधन सखी योजना
उत्तराखंड ईंधन सखी योजना

Eandhan Sakhi Yojana: Overview

योजनाईंधन सखी योजना
राज्यउत्तराखण्ड
उद्देश्यपहाड़ियों में रिफिलिंग के साथ महिलाओं की आय बढ़ाना
लाभप्रति बिक्री ₹20 रुपए कमीशन के साथ प्रचार के लिए ₹1000 तक की आमदनी
लाभार्थीउत्तराखंड की SHG पहाड़ी महिलाएं
आवेदन प्रक्रियास्पष्ट नहीं
ऑफिशियल वेबसाइटजल्द लॉन्च होगी

ईंधन सखी योजना क्या है ?

उत्तराखंड के सुदूर पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोगों की रसोई गैस सिलेंडर रिफिल की समस्या को हल करने के लिए राज्य सरकार ने ईंधन सखी योजना शुरू की है। इसके तहत राज्य सरकार पहाड़ियो में गैस की कमी को मिनी गैस एजेंसी के माध्यम से दूर करेगी।

विशेष बात यह है कि मिनी गैस एजेंसी योजना ग्राम विकास विभाग द्वारा शुरू की गई है। जिसमें मिनी गैस एजेंसी को SHG यानी स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाएं संचालित करेंगी। विशेष सूचना के अनुसार इसका लाभ लेने के लिए महिलाओं को Eandhan Sakhi Yojana Apply Online करना होगा, जिसके लिए अब तक सरकार ने चार जिलों में पायलट प्रोजेक्ट शुरू करने के लिए सरकार ने Hindustan Petroleum कंपनी से करार किया है।

Eandhan Sakhi Yojana Uttarakhand का उद्देश्य

ग्राम्य विकास विभाग के अपर सचिव एवं आयुक्त आनंद स्वरूप ने बताया कि इस योजना के दो उद्देश्य हैं। पहला, स्वयं सहायता समूह की महिलाओं की आय बढ़ाना है, और दूसरा, सुदूर क्षेत्रों में गैस की आपूर्ति को आसानी से करना है।

भारत में सबसे अधिक हाशिए पर रहने वाले और कमजोर जनजातीय समुदायों का उत्थान करना बहुत जरूरी है क्योंकि इन समूहों को अक्सर गंभीर सामाजिक-आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ता है, जिसके लिए भारत सरकार द्वारा PM Janman Yojana प्रस्तुत की गई है

ईंधन सखी योजना की विशेषताएं

उत्तराखंड सरकारने पहाड़ी सुदूर क्षेत्रों में गैस सप्लाई को सुधारने और महिलाओं को आर्थिक स्वतंत्रता प्रदान करने के लिए कई महत्वपूर्ण उपायों को शामिल किया है। 

  • पहली विशेषता है कि इस योजना के तहत मिनी गैस एजेंसी में हमेशा पांच भरे हुए गैस सिलिंडर उपलब्ध रहेंगे, जिससे ग्राहकों को आसानी से गैस मिलेगा। 
  • दूसरी विशेषता में, कंपनी द्वारा प्रदान किए जाने वाले हर सिलिंडर पर 20 रुपये तक कमीशन की सुविधा है, जिससे गैस एजेंसियों को उत्तराखंड के प्रदेश में सहयोग मिलेगा। 
  • तीसरी विशेषता में, योजना बर्नर, चूल्हा, सर्विस, गैस पाइप, नए कनेक्शन देने, डीबीसी कनेक्शन पर भी कंपनी द्वारा कमीशन प्रदान करती है, जो कि उपभोक्ताओं को और भी लाभकारी बनाता है। 
  • चौथी विशेषता में, गांव-गांव में प्रचार-प्रसार करने पर एक हजार रुपये अलग से मिलेंगे, जिससे योजना को बढ़ावा मिलेगा और लोगों को इसके लाभ के बारे में जागरूक किया जा सकेगा। 
  • इस योजना के तहत के दो उद्देश्यों का मिलन, पहला है स्वयं सहायता समूह की महिलाओं की आय में वृद्धि, जिससे महिलाएं आर्थिक रूप से स्वतंत्र हो सकती हैं। दूसरा, पहाड़ी सुदूर क्षेत्रों में गैस की सुरक्षित और सहज सप्लाई का सुनिश्चित करना है, जिससे लोगों को बेहतर जीवनस्तर मिले।
ईंधन सखी योजना

Benefits (लाभ)

ग्राम्य विकास विभाग के अपर सचिव एवं आयुक्त आनंद स्वरूप ने कहा कि मिनी गैस एजेंसी में हर वक्त पांच भरे हुए गैस सिलिंडर उपलब्ध होंगे। हर सिलिंडर पर कंपनी 20 रुपये तक कमीशन देगी। साथ में कम्पनी बर्नर, चूल्हा, गैस पाइप, डीबीसी कनेक्शन, सेवाओं और नए कनेक्शन पर कमीशन देगी। सबसे खास बात इस योजना का गांव-गांव में प्रचार करने पर 1000 रुपये अलग से दिए जाएंगे।

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी बहनों की क्षमता बढ़ाने और उनकी आजीविका को बेहतर करने के लिए ड्रोन दीदी कार्यक्रम की कल्पना बेहद शानदार है।

Join Our WhatsApp Group Join Now
Join Our Telegram Group Join Now

Eandhan Sakhi Yojana का लाभ कैसे मिलेगा ?

ग्राम्य विकास विभाग ने मिनी गैस एजेंसी योजना शुरू की, जिसे अब तक चार जिलों में राज्य सरकार ने पायलट परियोजनाओं के रूप में शुरू किया है। इसके लिए सरकार ने HP Company से समझौता किया है। इसके अंतर्गत HP Company उत्तराखण्ड की SHG यानी स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को मिनी गैस एजेंसी संचालन में ट्रेनिंग देगी। गौरतलब है कि अब तक 61 ईंधन सखी (उत्तरकाशी की 40, टिहरी की 16 और हरिद्वार की 5 महिलाएं) ट्रेनिंग लेकर तैयार हो चुकी हैं। अब यदि आप भी इसका लाभ लेने के लिए ईंधन सखी योजना आवेदन करना चाहती है तो नीचे हमारे इस लेख को पूरा पढ़े..

Online Registration

Uttrakhand Eandhan Sakhi Yojana Online Registration कैसे करें ?

यदि आप भी इसका लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो हम आपको सबसे पहले बता दें कि उत्तराखंड में काफ़ी क्षेत्र पहाड़ी हैं। इनके रास्तों पर आना जाना बहुत कठिन है। यहां तक कि कई जगह पैदल चलना भी मुश्किल है। ऐसे में इन क्षेत्रों में गैस सिलेंडर लाना बहुत मुश्किल है। इसलिए जनता सरकार की इस ईंधन सखी योजना से काफी प्रभावित होगी। क्योंकि इस योजना के तहत न सिर्फ़ सुदूर पहाड़ी क्षेत्रों में गैस की आपूर्ति को आसानी से पूरी की जाएगी बल्की कमज़ोर बेरोजगार महिलाओं को इससे जोड़ कर उनकी आय का साधन बनेगी।

अब यदि आप Eandhan Sakhi Yojana Online Registration करना चाहते हैं तो हम आपकों बता दें कि अभी राज्य सरकार की तरफ़ से ईंधन सखी योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया स्पष्ट नहीं की गई है, लेकिन यह अनुमान लगाया जा रहा कि जल्द ही इसको लेकर उत्तराखंड सरकार अपने दिशा निर्देश स्पष्ट करेंगी। अब हम आपकों यह सुझाव देना चाहेंगे कि यदि आप इसका लाभ लेना चाहते हैं तो Eandhan Sakhi Yojana Apply Online की प्रक्रिया सबसे पहले जानने के लिए हमसे जुड़ें रहे।

टीबी की बीमारी बहुत ही गंभीर है जो लोगों को मौत के मुंह तक ले जाती है इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार देश के गरीब नागरिकों को Nikshay Poshan Yojana के तहत इलाज कराने के लिए सहायता दे रही है।

Credit: PIPL BHARAT

ये भी पढ़ें –

FAQs

Q1. ईंधन सखी योजना क्या है ?

राज्य सरकार ने उत्तराखंड के सुदूर पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोगों की रसोई गैस सिलेंडर रिफिल की समस्या को हल करने के लिए राज्य सरकार ने “ईंधन सखी योजना” शुरू की है। जिसके तहत महिलाओं को हिस्सेदार बनाया जाएगा।

Q2. Eandhan Sakhi Yojana Uttarakhand Benifits क्या क्या है ?

इसके तहत, HP कंपनी हर सिलिंडर पर 20 रुपये व डीबीसी कनेक्शन, बर्नर, चूल्हा, गैस पाइप, सेवाओं और नए कनेक्शन पर महिलाओं को कमीशन देगी। साथ ही गांव-गांव में प्रचार करने पर 1000 रुपये भी मिलेंगे।

Q3. मिनी गैस एजेंसी योजना के तहत महिलाओं को कैसे जोड़ा जाएगा ?

ईंधन सखी योजना के लिए सरकार ने HP Company से समझौता किया है। HP Company इसके तहत महिलाओं को मिनी गैस एजेंसी संचालन में ट्रेनिंग देगी।

Q4. Uttarakhand Eandhan Sakhi Yojana Apply Online कैसे करें ?

आवेदन की प्रक्रियां ऊपर लेख में विस्तार से जानकारी दी गई है।

Sharing Is Caring:

Working for education and society anylisis as Content writer.

  Join